SJ WorldNews - шаблон joomla Авто
f1 l1 tw1 g1 g1
Breaking News

Webp.net gifmaker

मेरे माथे पर "सी...... लिखा है और तुम क्या बी......." हो ?

प्रिय पाठको कुछ गलत ना समझे जो आप समझ रहे है ये शब्द वही है, बस मै आपसे खेल रहा हूँ क्यूकि मैं "चतुर बनिया" हूँ। इस द्रोणनगरी मे दशको पूर्व एक विभाग बना चतुर बनिया विकास प्राधिकरण पर असल मे विभाग का नाम कुछ और है। जब मै यानि पत्रकार उर्फ ( भांड, ब्लैकमेलर, फर्जी, दलाल ) जब से जवान हुआ हूँ इस विभाग का आंकलन कर रहा हूँ।

सरकारे भी यहाँ पर साफ और चरित्रवान लोगो को सचिव और उपाध्यक्ष बनाती है, पहले भगवान कृष्ण के बाधयंत्र को बैठा दिया था अब साक्षात शिव जी खुद बैठे है। मुझे लिखते हुए अफसोस नहीं होगा कि वर्तमान मे बैठे हुए भोले महाराज से कुछ बड़े फर्जीबाड़े की शिकायत मैंने यानि ( पहले पत्रकार हुआ करता था ) भांड, ब्लैकमेलर, फर्जी, दलाल ने की थी । आपके कानो मे जूं क्या खटमल भी ना रेंगी।

मुझे अपने आपको इन शब्दो से सुशोभित करते हुए बिलकुल शर्म महसूस नहीं हो रही है क्यूकि मै जानता हूँ ऐसा आप सभी अधिकारी पत्रकारो के बारे मे सोचते है। पहले कोई खालिस पत्रकार कुछ लिख दे तो उस पर मंत्री क्या अधिकारी सभी अमल करते थे। अब आप पत्रकारो को जो समझते है मैंने लिख दिया है। ऐसा क्यो समझते है आप क्यूकि आप खुद ऐसे है।  आप पढ़ लिख यहाँ आए है कि पढ़े लिखो को मूर्ख बनाने आए है। आप सिस्टम को बदल नहीं सकते, मै तो ऊपर वाले का शुक्रगुजार हूँ कि हिंदुस्तान की आज़ादी के समय आप पैदा नहीं हुए वरना हम आज भी गुलाम होते। आप "चतुर बनिये" की सिर्फ दुकान चला रहे है कि जितना किराए की दुकान पर टिके रहेंगे उतना फायदा होगा क्यूकि चलती हुई दुकान है।

कुछ दिन पहले आपके साक्षात दर्शन किए थे मैंने और आपको कुछ अवैध गलतियाँ जो आपने जानबूझ कर की है उनके बारे मे बताया था कि कैसे ये हो गया । उनका क्या हुआ आजतक? आप जो एक महीने पहले तांडव कर रहे थे नोटिस पर नोटिस भेजे जा रहे थे वो सिर्फ अपने सर पर बैठे हाकिम के ऊपर भड़ास मात्र थी । किसी दूसरे की जमीन पर आप मानचित्र स्वीक्रत कर दे रहे है, कोई बिल्डर आपकी की और हमारी माँ (नदी माँ होती है ) के अस्तित् के साथ खिलवाड़ कर अपार्टमेंट और प्लाटिंग कर दे रहा है आप खामोश है ऐसा क्यो ? शिव जी उस बिल्डर पर कार्यवाही क्यो नहीं रही क्योंकि आपको डर है कि आपको वो चलती हुई दुकान से बाहर ना कर दे। आप इसलिए तो चतुर बनिये हो गए हो। खैर अगर मेरे शब्द आपको चुभे तो मै यह समझ जाऊंगा कि आप अपने वही स्वरूप मे लौट रहे है जैसे इस दुकान मे आने से पहले थे।

(नोट: यह लेख किसी पर व्यक्तिगत नहीं है आप खालिस और श्रमजीवी पत्रकार की कलम से निकली सच्चाई पढ़ रहे है।)

Rate this item
(2 votes)
khoji Narad Team

Uttarakhand No. 1 News Web Portal | Read Online Hindi news, khojinarad brings news in Hindi from India & World. Breaking News Daily news headlines, current affairs on politics, entertainment, sports, lifestyle, education and more.

Website: khojinarad.in/
primi sui motori con e-max.it