दिल्ली

gold.jpeg

सोना और चांदी की कीमतों में गिरावट का दौर जारी है। मंगलवार को पिछले पांच में चौथा मौका रहा, जब सोना सस्ता हुआ। पिछले महीने अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच चुकीं सोने की कीमत अब 5000 रुपए प्रति 10 ग्राम तक कम हो गई हैं। चांदी में भी लगातार गिरावाट देखी जा रही है। जानकारी के मुताबिक, वैश्विक बाजारों में गिरावट के कारण भारतीय बाजारों में मंगलाव को सोने और चांदी की कीमतें गिरीं। एमसीएक्स पर सोना वायदा 0.5% गिरकर 50,803 प्रति 10 ग्राम हो गया। चांदी वायदा भी 0.6% गिरकर67,850 प्रति किलोग्राम पर आ गई।

पिछले सत्र में सोने के वायदा में 0.7% की तेजी आई थी, जबकि इसके पिछले तीन दिन गिरावट का रुझान रहा था। चांदी वायदा में 1.6% की वृद्धि हुई थी। सोने और चांदी दोनों ने पिछले महीने अपना उच्च स्तर हासिल किया था। अगस्त के तुलना में अभी चांदी 10,000 प्रति 10 ग्राम सस्ती है।

वैश्विक बाजारों में भी मंगलवार को सोने की कीमतों में गिरावट आई। इसे पीछे मजबूत अमेरिकी डॉलर और दुनिया भर में कोरोनो वायरस का असर बताया जा राह है। हाजिर सोना 0.2% की गिरावट के साथ 1,925.68 डॉलर प्रति औंस था। डॉलर का सूचकांक अपने प्रतिद्वंद्वियों के मुकाबले 0.45% बढ़ा, जिससे अन्य मुद्राओं के धारकों के लिए सोना अधिक महंगा हो गया। विश्लेषकों का कहना है कि भारत और चीन जैसे प्रमुख बाजारों में भी उपभोक्ता मांग कमजोर है।

देश की अर्थव्यवस्था के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में गिरावट का सिलसिला जुलाई में काफी धीमा पड़ गया। वाणिज्य एवं उद्योग मंडल एसोचैम ने सोमवार को यह सकारात्मक टिप्पणी की। एसोचैम की तरफ से कराए गए विश्लेषण के मुताबिक जुलाई, 2020 के दौरान सीमेंट, स्टील और कोयला जैसे महत्वपूर्ण सेक्टरों में काफी सुधार देखा गया है। हालांकि सालाना आधार पर इनके आंकड़े गिरावट दर्शाते हैं, लेकिन इनमें तेजी से सुधार आया है। पहली तिमाही में इन क्षेत्रों में भारी गिरावट दर्ज की गई थी। मसलन, कोयला उत्पादन में 2020-21 की पहली तिमाही के दौरान 15 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई, लेकिन जुलाई में यह गिरावट महज 5.7 प्रतिशत रह गई। इसी तरह अप्रैल-जून में 38.3 प्रतिशत की तेज गिरावट के बाद सीमेंट उत्पादन जुलाई में केवल 13.5 प्रतिशत घटा।

 

pm_modi.jpg
प्रदेश के एक लाख से ज्यादा पथ विक्रेताओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद करेंगे। इस दौरान उनके खाते में 10 हजार रुपये की राशि भी हस्तांतरित होगी। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत बैंकों से पथ विक्रेताओं को ऋण दिलाया जा रहा है। इसमें मध्य प्रदेश देश में अव्वल है। कार्यक्रम सभी नगरीय निकायों में दिखाया जाएगा। इस दौरान शिवराज सरकार के सभी मंत्री भी मौजूद रहेंगे।

उधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 68 हजार हितग्राहियों के खातों में योजना की अंतिम किस्त के 102 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए। कैबिनेट बैठक के बाद गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि प्रदेश में प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत आठ लाख से ज्यादा पथ विक्रेता पंजीयन करा चुके हैं। इनमें से एक लाख 86 हजार के प्रकरण बैंकों को भेज दिए गए हैं। एक लाख प्रकरण स्वीकृत हो गए हैं। योजना के सभी हितग्राहियों से प्रधानमंत्री संवाद करेंगे। इस दौरान वे उनके कार्यस्थल को भी देखेंगे। इस दौरान 10 हजार रुपये भी हितग्राहियों के खातों में जमा होंगे।

उधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मंगलवार को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के 68 हजार हितग्राहियों के खाते में चौथी और अंतिम किस्त के 102 करोड़ रुपये जमा कराए। प्रदेश में अभी तक योजना के तहत 17 लाख आवास पूर्ण किए जा चुके हैं। 12 सितंबर को जिन हितग्राहियों के वर्ष 2019-20 में आवास बन चुके हैं, उनका गृह प्रवेश 12 सितंबर को उत्सव मनाकर कराया जाएगा। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जुड़ेंगे और संदेश देंगे।

मुख्यमंत्री ने हितग्राहियों से संवाद करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री और मेरा लक्ष्य गरीबों का कल्याण और उन्हें सुविधाएं दिलाना है। 16 सितंबर को प्रदेश के 37 लाख लोगों को सार्वजनिक वितरण के तहत राशन वितरण की शुरुआत की जाएगी। 18 सितंबर को 21 लाख किसानों के खातों में वर्ष 2019 की खरीफ फसलों को हुए नुकसान का फसल बीमा चार हजार 600 करोड़ रुपये दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री आवास योजनाओं के हितग्राहियों से संवाद के दौरान बैतूल की सुशीलादेवी विश्वकर्मा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को बताया कि हमने 49 दिन में मकान बना लिया। मैं और मेरे पति श्रमिक हैं। पहले कच्चा मकान था। छत से पानी टपकता था। योजना में हमने और रिश्तेदारों की मदद से 40 दिन में निर्माण कार्य पूरा कर लिया। हमें मनरेगा से शौचालय और उज्जवला योजना से गैस भी मिली है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे चाय पीने उनके घर जरूर आएंगे।

 

 

attorney_M_792020.jpg

केंद्र ने सोमवार को उच्चतम न्यायालय को सूचित किया कि अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल स्वत: पृथक-वास में हैं। इसके साथ ही उसने अधिकरणों में रिक्त पदों पर नियुक्ति से संबंधित मामले में स्थगन का अनुरोध किया। न्यायमूर्ति एल. नागेश्वर राव और न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता की पीठ से अतिरिक्त सॉलिसीटर जनरल एसवी राजू ने इस याचिका की सुनवाई कुछ दिन के लिए स्थगित करने का अनुरोध किया क्योंकि इसमें पेश हो रहे अटॉर्नी जनरल स्वत: पृथक-वास में हैं। पीठ ने राजू का अनुरोध स्वीकार कर लिया और मामले पर सुनवाई की अगली तारीख 15 सितंबर तय की।

 

train-mask.jpg

रेलवे स्टेशनों पर मास्क न लगाना अब आपको भारी पड़ सकता है क्योंकि कोरोना वायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए भारतीय रेलवे ने सख्ती बढ़ा दी है। किसी भी मुसाफिर के बिना मास्क के पाए जाने पर सीधा 500 रूपये का जुर्माना लगाया जा रहा है। हालांकि ये रकम राज्य सरकार के फंड में जा रही है और चालान काटने का काम जीआरपी कर रही है। जीआरपी यानी गवर्नमेंट रेलवे पुलिस राज्य की पुलिस होती है लेकिन ये रेलवे स्टेशनों पर तैनात होती है।

देशभर में 230 ट्रेनें चला रहा है रेलवे

रेलवे फिलहाल देशभर में 230 ट्रेनें चला रहा है और 12 सितंबर से 80 और स्पेशल ट्रेनें शुरू होने जा रही हैं। ऐसे में मुसाफिरों के साथ ही रेल कर्मियों को भी बार-बार कोविड-19 को लेकर सावधानी बरतने को कहा जा रहा है। लेकिन कोरोना के विस्फोट के बाद भी बड़ी संख्या में लोग लापरवाही कर रहे हैं। ऐसे ही लोगों के लिए ये सख्ती शुरू की गई है।

हालांकि लोग मास्क न लगाने के पीछे कई तरह के बहाने भी बनाते हैं, लेकिन ऐसी लापरवाही पर किसी को बख्शा नहीं जा रहा है। इसलिए अगर आप भी रेल यात्रा की योजना बना रहे हैं तो ध्यान रहे कि कोरोना को लेकर बनाये गए हर नियम का पालन करें।

इन रूट पर चलाएगा 80 स्पेशल ट्रेन

भारतीय रेलवे 12 सितंबर से 80 नई विशेष ट्रेनें शुरू करने जा रही है। इन नई ट्रेनों के लिए यात्री 10 सितंबर से रिजर्वेशन करा सकेंगे। कोटा से देहरादून के लिए नंदा देवी एक्सप्रेस ट्रेन रोजाना चालाई जाएगी। जबलपुर से राजस्थान के अजमेर तक जाने वाली दयोदय एक्सप्रेस ट्रेन रोजाना चलाई जाएगी। प्रयागराज से जयपुर के लिए 02403 एक्सप्रेस ट्रेन चलेगी। खजुराहो से कुरूक्षेत्र के लिए 01841 नंबर वाली एक्सप्रेस ट्रेन चलाई जाएगी।

 

Photo Gallery