महाराष्ट्र

drags.jpg

सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच अब पूरी तरह ड्रग्स की तरफ चल पड़ी है। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो यानी एनसीबी की टीम मंगलवार को लगातार तीसरे दिन Rhea Chakraborty से पूछताछ की और खबर है कि उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। रिया के भाई शौविक और सेम्युअल मिरांडा को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। तीनों को बुधवार कोर्ट में पेश किया जाएगा। एनडीपीएस एक्ट के तहत यह गिरफ्तारी हुई है। इससे पहले रविवार और सोमवार को कुल मिलाकर करीब 14 घंटे पूछताछ की जा चुकी थी। एनसीबी रिया से पूछताछ के जरिये बॉलीवुड हस्तियों द्वारा ड्रग्स के उपयोग की तह में जाना चाह रहा था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एनसीबी ने 'दम मारे दम' करने वालीं 25 फिल्मी हस्तियों की लिस्ट तैयार कर ली है, जिनके खिलाफ जल्द कार्रवाई हो सकती है।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध हालात में मौत के मामले की जांच का एक हिस्सा अब बॉलीवुड में नशीली दवाओं के उपयोग और खरीद-फरोख्त तक जा पहुंचा है। चूंकि इसके सुराग Rhea Chakraborty के मोबाइल से 2019-20 में किए गए कुछ चैट से मिले हैं इसलिए Rhea Chakraborty और उसके भाई शौविक इस मामले में नामजद किए गए हैं।

NCB शौविक सहित नौ लोगों को अब तक गिरफ्तार कर चुका है। इन सभी से पूछताछ में मिली जानकारियों के बाद ही एनसीबी ने रविवार से रिया से पूछताछ शुरू की है। Rhea Chakraborty ने एनसीबी के सामने अपने भाई और अन्य लोगों से ड्रग्स संबंधी चैट की बात कबूल की है, लेकिन खुद ड्रग्स के उपयोग से इन्कार कर रही है। उसका यह भी कहना है कि उसके मोबाइल से भेजे गए चैट सुशांत खुद बोलकर लिखवाता था। एनसीबी Rhea Chakraborty से बॉलीवुड में ड्रग्स का इस्तेमाल करने वाले अन्य लोगों और रिया के संपर्क में रहे ड्रग पेडलर्स के बारे में भी जानना चाह रहा है।

 

corona_police.jpg

देश में वैश्विक महामारी कोविड-19 से सबसे अधिक प्रभावित महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण राज्य के पुलिस बल के लिए दिनोंदिन घातक सिद्ध हो रहा है और पिछले 24 घंटों में बल के 348 कर्मी इसकी चपेट में आए जबकि एक की इसने जान ले ली। कोरोना वायरस बल के 177 लोगों की अब तक जान ले चुका है।

महाराष्ट्र पुलिस की तरफ से मंगलवार को जारी आंकड़ों में पिछले 24 घंटों में पुलिसकर्मियों में संक्रमण के 348 नये मामले सामने आए और वायरस बल के अब तक 17439 कर्मियों को अपनी चपेट में ले चुका है। इनमें से 1855 अधिकारी और 15584 पुरूष सिपाही हैं।

सोमवार के आंकड़ों में 179 नये मामले और तीन की मृत्यु हुई थी।

जानलेवा कोरोना वायरस के गत चौबीस घंटों में बल के एक और कर्मी की जान ले लेने से अब तक 177 पुलिसकर्मियों की वायरस से मौत हो चुकी है। इसमें 16 अधिकारी और 161 पुरूष कर्मी हैं।

देश में महाराष्ट्र महामारी से सर्वाधिक त्रस्त है और सात सितंबर तक राज्य में नौ लाख 23 हजार 641 लोग संक्रमण की जद में आ चुके हैं और 27027 मरीजों की यह जान ले चुका है। राज्य में दो लाख 36 हजार 934 लोग इससे फिलहाल जूझ रहे हैं।

महाराष्ट्र में 3225 पुलिसकर्मी कोरोना से वर्तमान में पीडि़त हैं जिसमें 386 अधिकारी और 2839 पुरूष सिपाही हैं। कोरोना को 14037 पुलिसकर्मी मात दे चुके जिसमें 1453 अधिकारी और 12584 पुरूषकर्मी हैं।

Photo Gallery