IMG-20180826-WA0429.jpg

देहरादून। कहते हैं कुछ लोग इतिहास लिखा करते हैं और कुछ लोग इतिहास बन जाते हैं जी हां ऐसा ही एक इतिहास देहरादून के इस युवा पत्रकार ने बना दिया है। हम बात कर रहे हैं देहरादून में पत्रकारिता के क्षेत्र में अपनी पहचान बनाने वाले नारायण परगाई की, जिनका नाम मीडिया जगत में हलचल के रूप में जाना जाता है। लेकिन देहरादून में काठगोदाम से चलने वाली नई ट्रेन नैनी दून जन शताब्दी में सफर करने के बाद देहरादून पहुंचने वाले वह पहले यात्री बन गए हैं। उनका देहरादून पहुंचने पर BJP के कई नेताओं ने फूल मालाओं से स्वागत भी किया।

उनके इतिहास बनने के पीछे की कहानी यह भी है कि काठगोदाम से देहरादून तक का सफर करने के बाद हालांकि वह पूरी ट्रेन में अकेले नहीं थे, लेकिन उनके इतिहास बनने की कहानी उनके देहरादून स्टेशन पर उतरने वाले पहले यात्री के रूप में बनी है। बता दे किसी भी राज्य में नई ट्रेन के संचालन करने वाले राज्य में और उस में सफर करने वाले यात्री इतिहास के गवाह बनते हैं और इन इतिहास के पन्नों उनका नाम हमेशा के लिए दर्ज हो जाता है।

काठगोदाम से देहरादून चली नई ट्रेन के सफर करने वाले लोगों ने भी कुछ ऐसा ही इतिहास कायम किया है इस नई ट्रेन के सफर को लेकर हालांकि कई राजनीतिक बातें भी सामने आई हैं लेकिन काठगोदाम से देहरादून तक चलने वाली ट्रेन आम जनता को पूरा फायदा देती हुई भी नजर आएगी।

Photo Gallery